Diploma kya hai, Course fee, puri jankari in hindi

Diploma kya hai, Course fee, puri jankari in hindi- आज हम निम्नलिखित टॉपिक्स पर चर्चा करने वाले हैं जो कि डिप्लोमा से रिलेटेड है जैसे कि 

  1. डिप्लोमा कोर्स kya hota hai 
  2. diploma kitne saal ka hota hai
  3. डिप्लोमा कोर्स फीस
  4. डिप्लोमा इंजीनियरिंग कोर्स
  5. डिप्लोमा कोर्स 12वीं के बाद
  6. डिप्लोमा करने से क्या होता है
  7. डिप्लोमा का फुल फॉर्म क्या होता है
  8. डिप्लोमा कोर्स 10 वीं के बाद

डिप्लोमा कोर्स kya hota hai 

 तो सबसे पहले हम बात करेंगे कि डिप्लोमा कोर्स क्या होता है,  मुख्यता डिप्लोमा 3 साल का एक शैक्षिक कार्यक्रम होता है,  यह क्लास ट्वेल्थ के समतुल्य माना जाता है,  अगर आप 10th करने के बाद डिप्लोमा करते हैं तो आपको ट्वेल्थ करने की जरूरत नहीं पड़ेगी,  परंतु बहुत सारे बच्चे क्लास ट्वेल्थ के बाद डिप्लोमा में एडमिशन लेते हैं क्योंकि डिप्लोमा में कुछ इस तरह की ब्रांच है जिसमें आप ट्वेल्थ के बाद ही जा सकते हैं,  मुख्यता डिप्लोमा में तकनीकी से रिलेटेड शिक्षा दी जाती है|

आगे डिप्लोमा के कोर्स के बारे में चर्चा करेंगे वहां उससे आप जानेंगे कि इस कोर्स के लिए कितने साल का शैक्षणिक कार्यक्रम रहता है|

SEE ALS0 – Unacademy kya hai, अनअकैडमी क्या है सारी जानकारी हिंदी में 

diploma kitne saal ka hota hai

diploma kitne saal ka hota hai- अब हम बात कर लेते हैं कि डिप्लोमा कितने साल का होता है,  डिप्लोमा कितने साल का होता है यह निर्भर करता है कि आपने किस ब्रांच का चयन किया है कुछ ब्रांच ऐसी भी है जिसमें आप 1 साल में भी कर सकते हैं कुछ ब्रांच ऐसी भी हैं जिन्हें आप 2 साल में भी कर सकते हैं कुछ ब्रांच ऐसी भी हैं जिन्हें आप को 3 साल देने पड़ेंगे|

 परंतु मुख्यता 3 साल पहले कोर्सेज ज्यादा है डिप्लोमा के लिए|

 मैं यहां पर आपके लिए नीचे कोर्स इसके हिसाब से डिप्लोमा की अवधि , न्यूनतम शैक्षिक अहर्ता बताने की कोशिश कर रहा हूं आप नीचे देख सकते हैं|

diploma kitne saal ka hota hai 1
diploma kitne saal ka hota hai 2
diploma kitne saal ka hota hai 3

डिप्लोमा कोर्स फीस

जब डिप्लोमा करने जा रहे हैं तो आप किसी सरकारी विद्यालय अथवा किसी प्राइवेट विद्यालय से डिप्लोमा करेंगे,  आप जानते हैं कि सरकारी विद्यालयों में भी बहुत ही कम होती है उसी तरह डिप्लोमा के लिए भी सरकारी विद्यालयों में फीस काफी कम रहती है,  और प्राइवेट विद्यालयों में फीस काफी ज्यादा रहती है तो मैं यहां आपको सरकारी तथा प्राइवेट विद्यालयों में डिप्लोमा कोर्स के लिए FEES बताने जा रहा हूं जो कि प्रति वर्ष के हिसाब से बताई जा रही है|

सरकारी विद्यालय ( सभी पाठ्यक्रमों के लिए) 10370/-
प्राइवेट विद्यालय   ( इंजीनियरिंग तथा आर्किटेक्ट कोर्स के लिए)30150/-
प्राइवेट विद्यालय     (फार्मेसी पाठ्यक्रम के लिए)45000/-

 उपरोक्त बताई गई फीस प्रतिवर्ष के लिए है,  सरकारी विद्यालयों की फीस में हॉस्टल फीस भी शामिल है परंतु प्राइवेट विद्यालयों की फीस में हॉस्टल भी शामिल नहीं है

 परंतु आपको खाने के पैसे प्रतिमाह अलग से देने होंगे जो कि करीब डेढ़ हजार से 2000 के बीच में होते हैं|

डिप्लोमा इंजीनियरिंग कोर्स

अब हम बात करेंगे कि ऐसे कौन-कौन से डिप्लोमा कोर्सेज हैं इंजीनियर ब्रांच में,  तो चलिए अब आपको ले चलते हैं डिप्लोमा कोर्सेज इन इंजीनियरिंग ब्रांच की तरफ


डिप्लोमा इंजीनियरिंग कोर्स 1
डिप्लोमा  इंजीनियरिंग कोर्स 2

डिप्लोमा कोर्स 12वीं के बाद

सारे डिप्लोमा कोर्सेज क्लास ट्वेल्थ के बाद होते हैं,  सिर्फ स्नातक वाले डिप्लोमा कोर्सेज को छोड़कर अब सारे Course कर सकते हैं

 ऊपर मैंने आपको बताया है कि कौन-कौन से कोर्स आप कर सकते हैं तो आप उनमें से सिर्फ पीजी डिप्लोमा मतलब  स्नातक वाले डिप्लोमा को छोड़कर सारे डिप्लोमा कर सकते हैं

पहली हेडिंग्स जिसमें हमने बात की है,  डिप्लोमा कितने साल का होता है साथ ही साथ हमने न्यूनतम शैक्षिक योगिता की भी बात की है आप वहां से देख सकते हैं कि किस डिप्लोमा के लिए कितनी न्यूनतम शैक्षिक योगिता हो सकती है आप वहां से यह भी जान सकते कि क्लास ट्वेल्थ के बाद आप कौन-कौन से डिप्लोमा कोर्स में दाखिला ले सकते हैं

डिप्लोमा करने से क्या होता है

करने से क्या होता है डिप्लोमा करने से क्या होता है यह एक बड़ा ही महत्वपूर्ण प्रश्न है,  कि आप डिप्लोमा करने के बाद किस तरह से अपना करियर बना सकते हैं आगे किस तरह से बढ़ सकते हैं नौकरी पा सकते हैं या अपना किसी तरह का व्यवसाय कर सकते हैं

 बड़ी ही विस्तृत चर्चा करते हैं इसके बारे में

  1.  यदि इंजीनियरिंग ब्रांच से डिप्लोमा करते हैं तो आप जूनियर इंजीनियर बन सकते हैं कई सारे सरकारी विभागों में समय-समय पर भर्तियां आती रहती हैं
  2.  यदि आपने डिप्लोमा किया है और आप बीटेक करना चाहते हैं तो आप डायरेक्ट बी टेक ए सेकंड ईयर में एडमिशन ले सकते हैं,  इसे लैटरल एंट्री के नाम से भी जाना जाता है
  3.  अगर आप किसी तकनीकी में माहिर हो गए हैं तो आप अपना खुद का भी व्यवसाय कर सकते हैं
  4. आप किसी प्राइवेट कंपनी में भी  जॉब कर सकते हैं वहां से आप एक  अच्छा पैसा कमा सकते हैं

डिप्लोमा का फुल फॉर्म क्या होता है

अब हम आपको यहां बताते हैं कि डिप्लोमा का फुल फॉर्म क्या होता है, देखिए डिप्लोमा अपने आप में एक पूरा वर्ड है और इसका मतलब होता है कि किसी कोर्स को करने के बाद दिए जाने वाला सर्टिफिकेट ही डिप्लोमा कहलाता है,
जैसे कि अगर आप 3 साल का इंजीनियरिंग में कोई कोर्स करते हैं तो उसके बाद जो सर्टिफिकेट मिलता है तो उसे डिप्लोमा कहा जाता है
यही अगर आप कोई 4 साल का इंजीनियरिंग का कोर्स करते हैं तो इंजीनियरिंग की डिग्री कहीं जाएगी

तो निष्कर्ष यह निकला है कि डिप्लोमा अपने आप में पूरा वर्ड है इसका कोई फुल फॉर्म नहीं होता है, जैसे की डिग्री अपने आप में एक पूरा वर्ड है उसका कोई फुल फॉर्म नहीं होता है|

 तो उम्मीद करता हूं आपको डिप्लोमा के बारे में कई सारी चीजों की जानकारी मिल गई होगी अगर आप कुछ और जानना पूछना चाहते हैं तो इसी पोस्ट के नीचे कमेंट करके आप हमसे जुड़ सकते हैं या आप  कांटेक्ट अस पर जाकर डायरेक्टली हमें मेल भी कर सकते हैं

FAQ- 

क्या ट्वेल्थ के बाद डिप्लोमा करना सही है

 बिल्कुल आजकल तकनीकी का जमाना है और आप जितना तकनीकी के बारे में जानेंगे उतना ही अच्छा है अगर आप बी टेक वगैरह नहीं कर सकते हैं परंतु फिर भी आप तकनीकी के क्षेत्र में जाना चाहते हैं तो आपको डिप्लोमा ही करना चाहिए

 क्या डिप्लोमा करने के बाद सरकारी नौकरी मिल सकती है

 जी हां बिल्कुल भारत सरकार तथा राज्य की सरकार समय-समय पर जूनियर इंजीनियर तथा अन्य पदों की भर्तियां निकालती रहती है तो आप इसमें नौकरी भी कर सकते हैं

 क्या क्लास 10th पास होने के बाद डिप्लोमा किया जा सकता है

 जी हां बिल्कुल क्लास 10th पास होने के बाद आप डिप्लोमा कर सकते हैं परंतु मैं आपको यही सजेस्ट करूंगा आप कम से कम क्लास ट्वेल्थ के बाद डिप्लोमा करें

 डिप्लोमा करने में कितनी फीस लगती है

 सरकारी विद्यालयों की फीस काफी कम रहती है जो कि करीब ₹10000 प्रति साल लगती है तथा प्राइवेट विद्यालयों के बीच थोड़ी ज्यादा रहती है जो कि करीब ₹30000 प्रति साल रहती है